• मुख्य पृष्ठ
  • पुडुचेरी: राजस्व - सॉल्वेन्सी प्रमाणपत्र जारी करने के लिए ऑनलाइन आवेदन करें

पुडुचेरी: राजस्व - सॉल्वेन्सी प्रमाणपत्र जारी करने के लिए ऑनलाइन आवेदन करें

क्षमता संपन्न संपत्ति मालिकों को मूल दस्तावेज, संपत्ति कर रसीद, चित्ता / एडंगल की प्रतिलिपि, और 13 से अधिक वर्षों का ऋणभार प्रमाणपत्र प्रस्तुत करने पर सॉल्वेन्सी प्रमाणपत्र जारी किया जाता है।

पुडुचेरी: राजस्व - आय प्रमाणपत्र जारी करने के लिए ऑनलाइन आवेदन करें

  •   पूरी तरह से ऑनलाइन

वेतन / आय प्रमाण प्रस्तुत करने पर आय प्रमाणपत्र छात्रवृत्ति, विभिन्न सरकारी योजनाओं के तहत वित्तीय सहायता और अन्य उद्देश्यों के लिए जारी किया जाता है।

पुडुचेरी: राजस्व - निवास / जन्म प्रमाणपत्र जारी करने के लिए ऑनलाइन आवेदन करें

  •   पूरी तरह से ऑनलाइन

मतदाता सूची और विद्यालय के रिकॉर्ड की प्रतिलिपि प्रस्तुत करने पर नागरिकों को शैक्षिक संस्थानों में प्रवेश और नियुक्ति के लिए निवास /जन्म प्रमाणपत्र जारी किया जाता है।

पुडुचेरी: राजस्व - जाति / समुदाय प्रमाणपत्र जारी करने के लिए ऑनलाइन आवेदन करें

  •   पूरी तरह से ऑनलाइन

शैक्षणिक संस्थानों में प्रवेश और नियुक्ति के लिए जाति / समुदाय प्रमाणपत्र, स्थानांतरण प्रमाणपत्र और अन्य संगत दस्तावेज प्रस्तुत करने पर जारी किया जाता है। ओबीसी / अनुसूचित जाति / अनुसूचित जनजाति प्रमाण पत्र सरकार द्वारा जारी संबंधित सूची में उल्लिखित जातियों के लिए जारी किया जाता है।

पुडुचेरी: राजस्व - स्थायी एकीकृत प्रमाण पत्र जारी करने के लिए ऑनलाइन आवेदन करें

  •   पूरी तरह से ऑनलाइन

अपने संबंधित स्कूल के माध्यम से 10वीं कक्षा की परीक्षाएं देने वाले विद्यार्थियों को अपेक्षित दस्तावेज प्रस्तुत करने और सत्यापन होने पर स्थायी एकीकृत प्रमाण पत्र जारी किया जाता है । इस प्रमाणपत्र में आवेदक की एक तस्वीर होगी जिसमें उनके उच्चतर अध्ययन के लिए जरूरी विवरण, जैसे निवास, राष्ट्रीयता, जाति / समुदाय और आय होंगे।

पुडुचेरी: महिला और बाल विकास – ऐसे परिवार के लिए प्रोत्साहन अनुदान जिसमें एक या दो लड़कियां हैं और माता-पिता ने परिवार नियोजन कराया है

  •   पूरी तरह से ऑनलाइन

माता-पिता में लड़की की वांछनीयता के बारे में जागरूकता लाने और परिवार में लड़की की स्थिति ऊपर उठाने के लिए 20,000 / - की राशि लड़की के नाम पर जमा की जाती है, यदि दो लड़कियां हैं तो प्रत्येक लड़की के नाम पर 10,000 / - जमा की जाती है। परिपक्व राशि तब जारी की जाएगी जब लड़की/ लड़कियों की आयु अठारह साल हो जाएगी। वार्षिक आय 60,000 / - से अधिक नहीं होनी चाहिए और माता-पिता में से किसी एक का केंद्रीय / राज्य सरकार के अस्पताल में परिवार नियोजन किया होना चाहिए।