सूचना और प्रसारण मंत्रालय

7 सेवाएं

भारतीय समाचार पत्रों के पंजीयक कार्यालय में समाचार पत्र पंजीकरण के नए और प्रतिलिपि संबंधी मामलों की जानकारी लें

भारतीय समाचार पत्रों के पंजीयक के पास समाचार पत्रों के पंजीयन से संबंधित मामले जैसे कि नए आवेदन, पुनरीक्षित या प्रतिलिपि संबंधित मामलों आदि से संबंधित आवेदन की स्थिति की जानकारी हासिल करें। शीर्षक के विशिष्ट क्रमांक या फिर पंजीयन क्रमांक से आप यह जानकारी हासिल कर सकते हैं।

भारतीय समाचार पत्रों के पंजीयक कार्यालय में समाचार पत्र पंजीकरण आवेदन की स्थिति ऑनलाइन पता करें

भारतीय समाचार पत्रों के पंजीयक के पास समाचार पत्र, पत्रिका और अन्य प्रकाशनों के शीर्षकों के खिताब के पंजीकरण के लिए दिए आवेदन की वर्तमान स्थिति की जानकारी लें। आप अपने आवेदन की स्थिति राज्य, जिला, मालिक का नाम और जिला दंडाधिकारी की जानकारी की मदद से खोज सकते हैं।

भारतीय समाचार पत्रों के पंजीयक कार्यालय में पंजीकृत अखबारों के नाम की जानकारी

भारत के समाचार पत्रों के पंजीयक के पास पंजीकृत शीर्षकों की जानकारी हासिल करें। पंजीकृत शीर्षकों की जानकारी के लिए आपको पंजीकरण संख्या, नई पंजीकरण संख्या, राज्य, भाषा, शीर्षक, वर्ष, प्रकाशन की अवधि या प्रकाशन का स्थान आदि की जानकारी उपलब्ध करानी होगी।

भारतीय प्रेस परिषद् को शिकायत दर्ज कराएं

अखबारों, पत्रिकाओं और अन्य जनसंचार माध्यमों के खिलाफ भारतीय प्रेस परिषद को शिकायत दर्ज कराने के बारे में जानकारी प्राप्त करें। आपको शिकायत दर्ज कराने की प्रक्रिया, अफसर, शिकायत का स्वरूप आदि की जानकारी मिल जाएगी। प्रेस की स्वतंत्रता का हनन संबंधित शिकायतों के बारे में प्रक्रिया की जानकारी भी दी गई है।

  • Informational
  • More

मोबाइल में एसएमएस के द्वारा रोजगार संबंधित सूचना पाने के लिए अपना पंजीकरण करवाएँ

आप रोजगार संबंधित सूचना अपने मोबाइल पर भी प्राप्त कर सकते हैं। इसके लिए आपको अपना नाम, मोबाइल नंबर, ई-मेल एवं अपने शहर के नाम की जानकारी देनी होगी।

भारतीय समाचार पत्र पंजीयक द्वारा सत्यापित शीर्षक खोजें

भारतीय समाचार पत्र पंजीयक (आरएनआई) द्वारा सत्यापित शीर्षक के बारे में जानकारी प्राप्त करें। प्रयोक्‍ता शीर्षक का नाम, शीर्षक कोड, आवधिकता, राज्य, राज्य और आवधिकता, प्रकाशन का स्थान और राज्य, भाषा, तिथि, वर्ष, वर्ष और माह, वर्ष और राज्य, भाषा और वर्ष, माह एवं राज्य के आधार पर शीर्षक खोज सकते हैं।

डीएवीपी द्वारा टीवी चैनलों को किये गए भुगतान का विवरण

डीएवीपी केन्द्र सरकार के सभी संगठनों, सार्वजनिक क्षेत्र के उपक्रमों या सरकारी संस्थाओं की उनके दर्शकों और बजट के आधार पर प्रचार संबंधी आवश्यकताओं की पूर्ति करता है। इसमें मीडिया के परम्परागत माध्यमों, जैसे – समाचार-पत्र, टीवी चैनल और रेडियो आदि विभिन्न माध्यमों का प्रयोग किया जाता है। बाहर में प्रचार के विकल्पों, जैसे - होर्डिंग, गाड़ियों और वाहनों पर लिखे गए संदेशों का भी प्रयोग किया जाता है। प्रयोक्‍ता विभिन्न संगठनों को इस तरह के भुगतान किये गए प्रचार के लिए विभिन्न टीवी चैनलों को किए गए भुगतान से संबंधित जानकारी प्राप्त कर सकते हैं।

  • Informational
  • More

मंत्रालयों से संबंधित सेवाएं