एनआईसी ई-मेल सेवाएं

ईमेल से संबंधित सेवाओं में नए ईमेल खाते बनाना, निष्क्रिय खातों को सक्रिय करने, पासवर्ड रिसेट करने, आईएमएपी समर्थ सुविधाओं आदि जैसे विभिन्न क्षेत्र शामिल हैं। केंद्र सरकार की यह प्रणाली हरियाणा सरकार के लाभ के लिए लागू की जा रही है । प्रयोक्ताओं को तकनीकी सहायता तथा हैंडलिंग सर्विस डैस्क/हेल्पडैस्क मामले भी इस प्रणाली का हिस्सा है। ई-मेल एकाउंट देखने के लिए वेबसाइट https://mail.gov.in पर जाते हैं। नए एकाउंट खोलने, आईएमएपी समर्थित सेवाओं आदि जैसी सेवाओं के लिए प्रयोक्ता को ‘डाउनलोड फॉर्म’ के अंतर्गत दिए गए ऑनलाइन प्रपत्र को भरना होता है। सभी औपचारिकताओं के बाद भरा गया प्रपत्र आवश्यक कार्रवाई हेतु हमें भेजा जाना होता है।

हरियाणा: पेंशनरों को एसएमएस अलर्ट

  •   पूरी तरह से ऑनलाइन

लाइफ सर्टिफिकेट और पीपीओ अपडेशन के संबंध में वित्त विभाग से एसएमएस प्राप्त करने के लिए इस सेवा का उपयोग पेंशनर द्वारा किया जाता है।

हरियाणा: टॉवर के नियमितकरण

  •   पूरी तरह से ऑनलाइन

टावर्स के रेग्युलिरिज़ेशन के लिए इस सेवा का उपयोग उद्योगपति द्वारा किया जाता है। आवेदन कैसे करें: इस सेवा का लाभ उठाने के लिए, निवेशक को https://investharyana.in पोर्टल पर पंजीकरण करना होगा। आगे एक समग्र आवेदन पत्र भरना है। इसके बाद निवेशक उपलब्ध सेवाओं की सूची से इस सेवा का विकल्प चुन सकता है।

हरियाणा: संचार और कनेक्टिविटी की अनुमति (नीचे का मैदान)

  •   पूरी तरह से ऑनलाइन

अंतर्निहित केबल्स में बिछाने के लिए एक उद्योगपति द्वारा इस सेवा का उपयोग किया जाता है। आवेदन कैसे करें: इस सेवा का लाभ उठाने के लिए, निवेशक को https://investharyana.in पोर्टल पर पंजीकरण करना होगा। आगे एक समग्र आवेदन पत्र भरना है। इसके बाद निवेशक उपलब्ध सेवाओं की सूची से इस सेवा का विकल्प चुन सकता है।

हरियाणा: संचार और संपर्क की अनुमति (ऊपर के मैदान)

  •   पूरी तरह से ऑनलाइन

मोबाइल टावर्स स्थापित करने के लिए इस सेवा का उपयोग एक उद्योगपति द्वारा किया जाता है आवेदन कैसे करें: इस सेवा का लाभ उठाने के लिए, निवेशक को https://investharyana.in पोर्टल पर पंजीकरण करना होगा। आगे एक समग्र आवेदन पत्र भरना है। इसके बाद निवेशक उपलब्ध सेवाओं की सूची से इस सेवा का विकल्प चुन सकता है।

हरियाणा: एनआईसी ई-मेल सेवाएं

  •   आंशिक रूप से ऑनलाइन

ईमेल से संबंधित सेवाओं में नए ईमेल खाते बनाना, निष्क्रिय खातों को सक्रिय करने, पासवर्ड रिसेट करने, आईएमएपी समर्थ सुविधाओं आदि जैसे विभिन्न क्षेत्र शामिल हैं। केंद्र सरकार की यह प्रणाली हरियाणा सरकार के लाभ के लिए लागू की जा रही है । प्रयोक्ताओं को तकनीकी सहायता तथा हैंडलिंग सर्विस डैस्क/हेल्पडैस्क मामले भी इस प्रणाली का हिस्सा है। ई-मेल एकाउंट देखने के लिए वेबसाइट https://mail.gov.in पर जाते हैं। नए एकाउंट खोलने, आईएमएपी समर्थित सेवाओं आदि जैसी सेवाओं के लिए प्रयोक्ता को ‘डाउनलोड फॉर्म’ के अंतर्गत दिए गए ऑनलाइन प्रपत्र को भरना होता है। सभी औपचारिकताओं के बाद भरा गया प्रपत्र आवश्यक कार्रवाई हेतु हमें भेजा जाना होता है।