• मुख्य पृष्ठ
  • कॉर्पोरेट मामलों के मंत्रालय द्वारा वार्षिक ई-फाइलिंग पर जानकारी

कॉर्पोरेट मामलों के मंत्रालय द्वारा वार्षिक ई-फाइलिंग पर जानकारी

नैगम कार्य मंत्रालय के द्वारा विभिन्न प्रपत्रों की ई-फाइलिंग से सम्बंधित विस्तृत जानकारी उपलब्ध कराई गई है। प्रपत्रों को ई -फाइल करने की प्रक्रिया और प्रपत्रों की ई-फाइलिंग के साथ अनुलग्नकों के बारे में जानकारी भी प्रदान की गई है।

निदेशक की पहचान निदेशक पहचान संख्या (फॉर्म डीआईआर -3) के आवंटन के लिए आवेदन

  •   आंशिक रूप से ऑनलाइन

आबंटित निर्देशक पहचान संख्या सेवा के लिए निर्दिष्टप फार्म पीडीएफ प्रारूप डाउनलोड के लिए उपलब्ध । सेवा का लाभ उठाने के लिए mca.gov.in से अपलोड किया जाना।

कॉर्पोरेट मंत्रालय में अपने अंकीय हस्ताक्षर प्रमाण-पत्र का ऑनलाइन पंजीकरण करवाएँ

  •   पूरी तरह से ऑनलाइन

आप कॉर्पोरेट मंत्रालय में अपने अंकीय हस्ताक्षर प्रमाण-पत्र का पंजीकरण ऑनलाइन करवा सकते हैं। आप पंजीकरण प्रक्रिया से संबंधित दिशा-निर्देश यहाँ देख सकते हैं। निदेशक, प्रबंधक, सचिव एवं पेशेवरों के लिए अंकीय हस्ताक्षर प्रमाण-पत्र के पंजीकरण प्रक्रिया की जानकारी यहाँ उपलब्ध है। अंकीय हस्ताक्षर प्रमाण-पत्र के पंजीकरण के पश्चात भूमिका जाँच की प्रक्रिया शुरू होती है। भूमिका जाँच की प्रक्रिया पूरी होने के पश्चात इस बात की जाँच की जाती है कि ई-प्रपत्र पर किया गया हस्ताक्षर सही व्यक्ति का है या नहीं।

कॉर्पोरेट मंत्रालय में दर्ज कराये गए अपनी शिकायत की स्थिति की जानकारी प्राप्त करें

  •   पूरी तरह से ऑनलाइन

आप कॉर्पोरेट मंत्रालय में दर्ज कराये गए अपनी शिकायत की स्थिति के बारे में ऑनलाइन पता कर सकते हैं। इसके लिए आपको शिकायत संख्या (एसआरएन), प्रारंभ तिथि एवं अंतिम तिथि की जानकारी देनी होगी।

निदेशक पहचान संख्या के लिए ऑनलाइन आवेदन करें

  •   पूरी तरह से ऑनलाइन

आप निदेशक पहचान संख्या के लिए ऑनलाइन आवेदन कर सकते हैं। आवेदन प्रक्रिया से संबंधित दिशा-निर्देश यहाँ दिए गए हैं। आवेदन करने हेतु सभी आवश्यक प्रपत्र भी यहाँ उपलब्ध हैं। आप निदेशक पहचान संख्या के लिए किये गए अपने आवेदन की स्थिति यहाँ ऑनलाइन देख सकते हैं।

कॉर्पोरेट मंत्रालय में अपनी शिकायत दर्ज करवाएँ

  •   पूरी तरह से ऑनलाइन

आप कॉर्पोरेट मंत्रालय में अपनी शिकायत ऑनलाइन दर्ज करवा सकते हैं। इसके लिए आपको एक प्रपत्र भरना होगा जिसमें आपको अपना नाम, अपने देश एवं शहर का नाम, अपनी कंपनी का नाम, शिकायत की श्रेणी एवं इसका पूर्ण विवरण देना होगा।